गर्मी के मौसम के मद्देनजर पॉवर जनरेटिंग यूनिट्स को अप-टू-डेट रखें:दास

Advertisements

चंडीगढ़, 22 फरवरी- हरियाणा पॉवर यूटीलिटीज के चेयरमैन एवं हरियाणा विद्युत विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पीके दास ने हरियाणा पॉवर जनरेशन कारपोरेशन लिमिटेड (एचपीजीसीएल) को निर्देश दिए कि आने वाली गर्मी के मौसम के मद्देनजर पॉवर जनरेटिंग यूनिट्स को अप-टू-डेट रखें ताकि बिजली की बढ़ी हुई मांग को पूरा किया जा सके। उन्होनें ‘नॉन-पिट हेड स्टेट पावर स्टेशनस’ और ग्रिड में अक्षय ऊर्जा की वांछित आपूर्ति के लिए भी तैयार रहने का आह्वान किया।

         वे आज एचपीजीसीएल के प्रदर्शन, वर्तमान में जारी परियोजनाओं की स्थिति और व अन्य विषयों पर आधारित कार्य योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। समीक्षा बैठक में नई तकनीक, एचपीजीसीएल यूनिट्स के शैड्यूल और कोयले की ढुलाई लागत जैसे मुद्दों पर भी चर्चा की गई। श्री पीके दास को एचपीजीसीएल द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र किए गए प्रयासों (जैसे ईआरपी का क्रियान्वन, ई-ऑफिस, एचआरएमएस आदि) से भी अवगत करवाया गया।

इस अवसर पर यह भी जानकारी दी गई कि भारत सरकार के पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा निर्धारित उत्सर्जन के नए दिशा-निर्देशों के अनुसार एचपीजीसीएल थर्मल पॉवर स्टेशनस के उन्नयन हेतू कई पहल (जैसे एफजीडी की स्थापना, नाइट्रोजन ऑक्साइड नियंत्रण उपकरण आदि) की जा रही हैं। यही नहीं वर्तमान वित्तीय वर्ष में एचपीजीसीएल ने स्टेशनस की सर्वाधिक राख उठाने का रिकॉर्ड बनाया है।

         श्री पीके दास ने स्वच्छ और अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में किए गए बेहतर प्रयासों व एचपीजीसीएल भूमि पर 77 मेगावाट का सोलर प्लांट एवं पंचायती भूमि पर 16 मेगावाट का सोलर प्लांट का अच्छा प्रबंधन करने पर संतोष व्यक्त किया।

         उनको यह भी जानकारी दी गई कि एचपीजीसीएल की पानीपत थर्मल पॉवर स्टेशन यूनिट और डीसीआरटीपीपी यमुनानगर यूनिट ने ऊर्जा दक्षता ब्यूरो द्वारा आबंटित प्रदर्शन, प्राप्ति और व्यापार के लक्ष्यों को हासिल किया है और वर्ष 2014-15 और वर्ष 2018-19 में व्यापार योग्य ऊर्जा संरक्षण सर्टिफिकेट  हासिल किया।

Leave a Reply