गुड़ व शक्कर की बिक्री के लिए ऑनलाईन प्लेटफार्म पर संभावनाएं तलाशी जाएं:बनवारी लाल

Advertisements

चंडीगढ़, 3 मार्च – हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने आज हरियाणा राज्य सहकारी चीनी मिल्ज प्रसंघ लि. के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सहकारी चीनी मिलों में उत्तम गुणवत्ता से तैयार किए जा रहे गुड़ व शक्कर की बिक्री के लिए ऑनलाईन प्लेटफार्म/वेबसाइट पर संभावनाएं तलाशी जाएं ताकि उत्पादों को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाया जा सके ।
सहकारिता मंत्री आज यहां सहकारिता विभाग के अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल भी उपस्थित थे।
बैठक के दौरान सहकारिता मंत्री को अवगत करवाया गया कि राज्य की सहकारी चीनी मिल, महम में गुड़ व शक्कर तैयार किया जा रहा है और चीनी मिल में स्थापित आउटलेट के माध्यम से इनकी बिक्री भी की जा रही है। इसके अलावा, अधिकारियों ने अवगत कराया कि चीनी की ऑनलाईन बिक्री के लक्ष्य को प्राप्त कर लिया गया है । इस पर मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे रिफाइंड चीनी के उत्पादन पर बल दें और रोहतक की सहकारी चीनी मिल के अलावा अन्य सहकारी चीनी मिलों में भी रिफाइंड चीनी के उत्पादन को शुरू किया जाए।
उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि वे गन्ना किसानों के भुगतान को ज्यादा समय तक लंबित न रखें और निर्धारित समय अवधि में भुगतान कर दिया जाए। इसके अलावा, बैठक में बताया गया कि हरियाणा राज्य सहकारी चीनी मिल्ज प्रसंघ लि. द्वारा सैनिटाइजर का भी निर्माण किया जा रहा है।
बैठक में बताया गया कि राज्य के सभी सहकारी चीनी मिलों में अटल कैंटीन सेवा को शुरू कर दिया गया है और इन कैंटीनों में लोगों को किफायती दरों पर भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है। यह भी बताया गया कि सहकारी आवास समितियों का कम्पयूटरीकरण किया जा रहा है और शीघ्र ही सभी समितियों का कम्पयूटरीकरण कर दिया जाएगा।
बैठक में भण्डारण, भण्डागार के निर्माण, हरको बैंक, डेयरी प्रसंघ, सहकारी समितियां, हैफेड इत्यादि से संबंधित अन्य मुदों के संबंध में चर्चा की गई और सहकारिता मंत्री द्वारा निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए।
बैठक में हरियाणा राज्य सहकारी चीनी मिल्ज प्रसंघ लि. के प्रबंध निदेशक श्री शक्ति सिंह सहित हरको बैंक, हरियाणा सहकारी समितियंा, हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लि ,हैफेड इत्यादि के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply