प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रीय युवा नीति का एकमात्र लक्ष्य युवाओं को पूर्ण रूप से क्षमता हासिल कराने के लिए

Advertisements

अम्बाला, 4 जनवरी:-
केंद्रीय सामाजिक न्याय, अधिकारिता एवं जल शक्ति राज्यमंत्री मंत्री रतनलाल कटारिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रीय युवा नीति का एकमात्र लक्ष्य युवाओं को पूर्ण रूप से क्षमता हासिल कराने के लिए उन्हें सशक्त बनाने के लिए तथा उनके जरिए देश को राष्ट्रों के बीच सही जगह हासिल कराने में समर्थ है।
केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया ने नेहरू युवा केंद्र संगठन द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय युवा संसद के कार्यक्रम में भाग लेते हुए कहा कि हमने युवाओं के विकास के लिए क्षेत्रों की पहचान की है जिसमें प्राथमिक क्षेत्र में शिक्षा, कौशल विकास और रोजगार, उधमिता, स्वास्थ्य एवं स्वस्थ जीवन शैली, खेल, सामाजिक मूल्यों का संवद्र्धन, समुदाय से जोडऩा, रानीति एवं शासन में भागीदारी, युवाओं को संलग्न करना, समावेशी और सामाजिक न्याय में शामिल करना है। उन्होंने कहा कि मुझे बहुत खुशी है कि आज देश में 60 करोड़ से ऊपर युवा हैं जो देश की कुल आबादी का 30 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि नेहरू युवा केंद्र संगठन, हरियाणा द्वारा प्रांत के सभी 22 जिलों में जिला युवा संसद कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस प्रतियोगिता में नेहरू युवा केंद्र तथा राष्ट्रीय सेवा योजना के 4715 प्रतिभागियों ने प्रतिभागी की।
    जिला स्तर के युवा संसद कार्यक्रम में युवाओं द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 उन्नत भारत अभियान, नए परिवेश में ग्रामीण अर्थव्यवस्था का सुदृढ़ीकरण एवं शून्य बजट प्राकृतिक खेती किसानों के लिए वरदान विषयों पर अपने वक्तव्य रखें।  हरियाणा के 22 जिलों में से चयनित 40 प्रतिभागी प्रतिभागीता कर रहे हैं । राज्य युवा संसद में युवा प्रतिभागी जलवायु परिवर्तन कोविड़-19 से भी बड़ा खतरा, भारतीय अर्थव्यवस्था का सुदृढीकरण, नारी शक्ति का इष्टतम उपयोग, एक नए भारत के लिए युवाओं में नई ऊर्जा का संचार और भारत में अभिनव स्टार्टअप हेतु इको सिस्टम का विकास विषय पर विचार करेगा। केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि राज्य स्तर पर चयनित युवा राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में अपनी छाप छोड़ेंगे।

Leave a Reply